Exams

REET 2021 : एक अभ्यर्थी ने भरे रीट परीक्षा के 22 फॉर्म, डीपी जारोली ने बताया नकल गिरोह की साजिश

REET 2021 : नीट और आरपीएससी एसआई भर्ती परीक्षा के बाद नकल करवाने वाले गिरोह की आंच रीट पर भी पहुंच सकती है। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (आरबीएसई) अध्यक्ष और रीट परीक्षा समन्वयक डीपी जारोली ने बताया कि 44000 से अधिक ऐसे अभ्यर्थी हैं जिन्होंने दो से अधिक फॉर्म भरे हैं। कुछ अभ्यर्थी ऐसे हैं, जिन्होंने 6 आवेदन तक किए हैं। उन्होंने कहा कि एक ने तो 22 फॉर्म भरे हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि इसके पीछे नकल कराने वाले गिरोह का हाथ हो सकता है। रैकेट चलाने वाले लोग ऐसे फॉर्म भरवाते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘सभी महिलाओं को गृह जिला देने की कोशिश की गई है। विवाहित महिलाओं को गृह जिला दिया गया है। जिन महिला अभ्यर्थियों को बाहर के सेंटर दिए गए, उनसे पूछा जाए कि उन्होंने कितने फॉर्म भरे थे। अब अगर कोई 10 फॉर्म भरती है तो उसे हमने 10 अलग अलग सेंटर दिए हैं ताकि नकल की कोई आशंका न रहे। अगर 10 फॉर्म के 10 सेंटर एक ही जिले में डाल दिए जाएंगे तो वह नकल का इंतजाम कर सकती है। जिन अभ्यर्थियों ने एक से अधिक फॉर्म भरा, उन्हें उसी जिले में सेंटर नहीं दे सकते। 

जारोली ने कहा, ‘बोर्ड दिन रात प्रयास कर रहा है कि रीट परीक्षा पूरी पारदर्शिता से हो। बच्चों के साथ कोई नाइंसाफी न हो।’

उन्होंने कहा कि 16.51 लाख में से 6 लाख अभ्यर्थियों का ही ट्रांसपोर्टेशन है। बाकी का उसी जिले में सेंटर है। अन्य राज्यों के 2.70 लाख से अधिक बच्चों ने आवेदन किया है, इसका भी दबाव था। 

एडमिट कार्ड में भाषा, लिंग और फोटो संबंधी सुधार आज तक कर सकेंगे
भाषा, लिंग और फोटो संबंधी गलती सुधार के लिए अभ्यर्थी रीट की वेबसाइट http://reetbser21. पर लॉगिन करके संशोधन कर सकते हैं। बोर्ड अध्यक्ष डॉ. डीपी जारोली ने कहा कि केवल भाषा, लिंग व फोटो संबंधी संशोधन के लिए एक और मौका दिया गया है। अन्य संशोधन परीक्षा के बाद 10 दिन के अंदर पूर्व की भांति करवा सकेंगे। परीक्षा केंद्र में किसी तरह का बदलाव नहीं होगा।

Related Articles

Back to top button