Exams

RPSC RAS 2021 : राजस्थान आरपीएससी आरएएस भर्ती का नया वर्गवार वर्गीकरण जारी

RPSC RAS 2021 : राजस्थान लोक सेवा आयोग ( आरपीएससी ) द्वारा राजस्थान राज्य एवं अधीनस्थ प्रतियोगी सेवाएं परीक्षा 2021 के तहत पदों के नया वर्गवार वर्गीकरण का शुद्धि पत्र जारी किया गया है। अभ्यर्थी आयोग की वेबसाइट https://rpsc.rajasthan.gov.in पर जाकर इसे चेक कर सकते हैं। सचिव शुभम् चौधरी ने बताया कि आयोग ने राजस्थान राज्य एवं अधीनस्थ प्रतियोगी सेवाएं परीक्षा 2021 के कुल 988 पदों के लिए विज्ञापन दिनांक 20.07.2021 को जारी किया था। कार्मिक विभाग के पत्र दिनांक 6.09.2021 एवं  20.09.2021 द्वारा प्राप्त नवीन वर्गवार वर्गीकरण के अनुसार शुद्धि पत्र संख्या 4/2021-22 जारी कर वेबसाइट पर अपलोड किया जा चुका है।

Direct Link

राजस्थान राज्य अधीनस्थ सेवाएं संयुक्त प्रतियोगी प्रारंभिक परीक्षा 2021 के लिए छह लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। आयोग ने इस परीक्षा के लिए 27 अक्टूबर की तारीख घोषित कर रखी है। 

उम्मीदवारों का चयन प्रतियोगिता परीक्षा (प्रारंभिक एवं मुख्य) और साक्षात्कार के आधार पर किया जाएगा।

वेतनमानः पे मैट्रिक्स लेवल 10 से 14 के आधार पर पदों के अनुसार। 

आरपीएससी की वेबसाइट पर प्रारंभिक परीक्षा के लिए सिलेबस भी जारी कर दिया गया है। प्रारंभिक परीक्षा का सिलेबस: इस भर्ती के लिए प्रारंभिक परीक्षा 200 अंकों की होगी। इस परीक्षा में सामान्य ज्ञान और विज्ञान का पेपर होगा। एमसीक्यू के 150 प्रश्न होंगे और सभी प्रश्नों के अंक भी समान होंगे। हर गलत जवाब के लिए एक तिहाई अंक काटा जाएगा.  इन पदों के लिए उम्मीदवारों को लिखित परीक्षाओं (प्रारंभिक और मुख्य) के दो चरणों को पास करना होगा, जिसके बाद उन्हें एक साक्षात्कार को भी पास करना होगा।  आयोग द्वारा जारी विज्ञापन में EWS अभ्यर्थी के लिए पहली बार आरक्षण इस सेवा में लागू किया गया है।

सहायक आचार्य (कॉलेज शिक्षा विभाग) प्रतियोगी परीक्षा, 2020
भूगोल व होम साइंस (चाइल्ड डेवलपमेंट) की परीक्षा आयोजित
राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा मंगलवार को सहायक आचार्य (कॉलेज शिक्षा विभाग) प्रतियोगी परीक्षा, 2020 के ऐच्छिक विषय भूगोल व होम साइंस (चाइल्ड डेवलपमेंट) की परीक्षा का आयोजन किया गया। भूगोल विषय की परीक्षा की प्रथम पारी में अभ्यर्थियों का कुल उपस्थिति प्रतिशत 29.62 तथा द्वितीय पारी में 29.57 रहा। होम साइंस (चाइल्ड डेवलपमेंट) परीक्षा की प्रथम पारी में 31.01 व द्वितीय पारी में 31.28 प्रतिशत अभ्यर्थियों द्वारा परीक्षा दी गई।

संबंधित खबरें

Related Articles

Back to top button