Exams

रीट परीक्षा में कथित अनियमितताओं के विरोध में भाजपा युवा मोर्चा का प्रोटेस्ट

REET 2021: भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) ने पिछले सप्ताह आयोजित राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट) में हुई कथित अनियमितताओं के विरोध में सोमवार को राज्यव्यापी प्रदर्शन किया। भाजयुमो के प्रदेशाध्यक्ष हिमांशु शर्मा के नेतृत्व में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के गृह जिले सीकर में जबकि जिला शाखाओं ने सभी जिलों में प्रदर्शन किया। 

शर्मा ने प्रदर्शन के दौरान कहा, ”शिक्षा मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए या रीट परीक्षा में हुई अनियमितताओं पर मुख्यमंत्री को उन्हें बर्खास्त कर देना चाहिए। रीट परीक्षा का पुन: आयोजन होना चाहिए।” उन्होंने मामले की जांच सीबीआई से कराने की भी मांग की। भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस सरकार के विरोध में नारे लगाए और शिक्षा मंत्री से इस्तीफा देने की मांग की। शर्मा ने कहा, ”हम आंदोलन जारी रखेंगे क्योंकि मामला उन लाखों अभ्यर्थियों से जुड़ा है जो परीक्षा में बैठे लेकिन कोई निष्पक्षता नहीं थी।” विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने रीट परीक्षा का पर्चा लीक होने का आरोप लगाया है। 

भाजपा के राज्यसभा सदस्य किरोड़ी लाल मीणा ने रविवार को आरोप लगाया था कि राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की गोपनीय शाखा के किसी अधिकारी की संलिप्तता से रीट परीक्षा का प्रश्न पत्र और उत्तर पुस्तिक दोनों लीक हुए हैं। उल्लेखनीय है कि तीस हजार शिक्षको की भर्ती के लिए पिछले सप्ताह माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा रीट परीक्षा आयोजित की गई थी। परीक्षा के आयोजन में कई अनियमितताएं और लापरवाही की बात सामने आने पर राज्य सरकार ने राजस्थान प्रशासनिक सेवा (आरएएस) के एक अधिकारी, राजस्थान पुलिस सेवा (आरपीएस) के दो अधिकारियों, एक हेड कांस्टेबल, दो कांस्टेबल और शिक्षा विभाग के एक दर्जन से अधिक कर्मियों को निलंबित कर दिया था।

Related Articles

Back to top button