Exams

REET रिजल्ट जल्दी करने पर BJP सांसद का गंभीर आरोप, कहा- RBSE अध्यक्ष पेपर लीक में छिपा रहे अपनी संलिप्तता

REET result 2021 : रीट पेपर लीक की जांच के बीच राजस्थान बोर्ड ( आरबीएसई ) की ओर से परीक्षा का रिजल्ट जारी करने पर सवाल उठने लगे हैं। भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि जल्दबाजी में रिजल्ट जारी कर बोर्ड अध्यक्ष ने पेपर लीक मामले में स्वयं की संलिप्तता पर लीपापोती करने की कोशिश की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘जल्दबाजी में रीट का परिणाम जारी कर राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष ने पेपर लीक मामले में स्वयं की संलिप्तता पर लीपापोती करने की कोशिश की है, लेकिन वे ऐसा करने में सफल नहीं हो पाएंगे। लाखों बेरोजगारों की मेहनत पर नकल का पानी फेरने वाले बड़े चेहरों से जल्द ही नकाब उतरेगा। रीट पेपर लीक मामले के पर्याप्त प्रमाण देने के बावजूद सूत्रधारों पर हाथ डालने की बजाय एसओजी प्यादों को पकड़ने में समय नष्ट कर रही है। सच सामने लाने के लिए सीबीआई जांच जरूरी है। सरकार की नजर में यदि सब कुछ सही तो वह सीबीआई से क्यों भाग रही है?’

राजस्थान बोर्ड ने मंगलवार को परीक्षा के 36 दिन के भीतर ही रिजल्ट जारी कर दिया गया।  रीट में 11,04,216 को पात्र घोषित किया गया है। लेवल-1 के लिए 3,03,604 व लेवल-2 के लिए 7,73,612 को शिक्षक पात्रता मिली। दोनों लेवल में 25.35 लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। अब तृतीण श्रेणी शिक्षकों के 31 हजार पदों पर भर्ती का इंतजार है।

रीट परीक्षा का आयोजन 26 सितंबर को हुआ था। इसके लिए राज्य के सभी 33 जिलों में कुल 3,993 परीक्षा केन्द्र बनाए गए थे। दो स्तरों में आयोजित इस परीक्षा के लिये 16.51 लाख उम्मीदवारों ने नामांकन किया था।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रीट परीक्षा में सफल हुए सभी अभ्यर्थियों को बधाई दी है। गहलोत ने ट्वीट किया, ”सफल अभ्यर्थियों को हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं। जो सफल नहीं हो सके हैं वे निराश न हों। आगे आने वाली परीक्षाओं की तैयारी करें। सिर्फ एक परीक्षा जीवन का रास्ता तय नहीं कर सकती है इसलिए मेहनत करते रहें।”

Related Articles

Back to top button