Exams

REET 2021 : रीट के 8 प्रश्नों के उत्तर पर विवाद, हाईकोर्ट ने RBSE से मांगा जवाब

REET 2021 : राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा ( रीट ) की आंसर-की को लेकर हाईकोर्ट ने शिक्षा सचिव, प्रारंभिक शिक्षा निदेशक, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर के सचिव और रीट समन्वयक से जवाब मांगा है। याचिकाकर्ता ने दावा किया है कि राजस्थान बोर्ड ने रीट के आठ प्रश्नों के उत्तरों को सही होते हुए भी गलत माना है। जबकि बोर्ड की किताब के मुताबिक उन 8 प्रश्नों के जवाब बिल्कुल सही है। रामेश्वर प्रसाद शर्मा की याचिका पर जस्टिस महेन्द्र गोयल ने शिक्षा सचिव, प्रारंभिक शिक्षा निदेशक, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर के सचिव और रीट समन्वयक से 26 नवंबर तक जवाब देने के लिए कहा है। 

याचिकाकर्ता ने कहा है कि प्रश्नों के गलत उत्तर पर उसने ऑब्जेशन भी दर्ज करवाया था लेकिन इसका निपटारा नहीं हो सका। 

बीएड अभ्यर्थियों को बड़ी राहत
राजस्थान सरकार ने रीट पास करने वाले वाले बीएड अभ्यर्थियों को बड़ी राहत दी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को घोषणा करते हुए कहा कि बीएड द्वितीय वर्ष के विद्यार्थी शिक्षक भर्ती की अंतिम तिथि तक बीएड की डिग्री मिलने पर शिक्षक भर्ती के लिए योग्य होंगे। सीएम गहलोत ने शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में यह फैसला लिया। अब तक राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (आरबीएसई) के नियमों के अनुसार रीट के नतीजे तक बीएड की डिग्री मिलने पर ही भर्ती के योग्य मानने का प्रावधान था। कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थितियों के चलते बीएड में अध्ययनरत हजारों अभ्यर्थियों का परीक्षा परिणाम रीट 2021 के परीक्षा परिणाम से पहले घोषित नहीं हो पाया है। कुछ की परीक्षाएं होना अभी बाकी है, तो कुछ का टाइम टेबल ही जारी नही हुआ है। इन विद्यार्थियों से रीट का आवेदन कराते समय सरकार ने कहा था कि इन्हें रीट की पात्रता का मौका दिया जाएगा। अब गहलोत सरकार के इस फैसले के बाद इन अभ्यर्थियों को राजस्थान प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय अध्यापक सीधी भर्ती में आवेदन की अंतिम दिनांक तक शैक्षणिक एवं प्रशैक्षणिक योग्यता प्राप्त करने का अवसर दिया जाएगा। यानी 31000 शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन की जो अंतिम तिथि होगी, उस तारीख तक इन्हें बीएड की डिग्री लेनी होगी। 

Related Articles

Back to top button