Results

राजस्थान रीट रिजल्ट जारी, इस तरह बनेगी 31000 शिक्षकों की भर्ती की मेरिट

रीट परीक्षा समन्वयक और राजस्थान बोर्ड अध्यक्ष डीपी जारौली ने बताया कि रीट परीक्षा के जरिए पात्रता जारी की गई है। रीट परीक्षा में जो अभ्यर्थी पास हुए हैं, वह 31000 शिक्षकों की भर्ती के लिए पात्र होंगे। लेकिन मेरिट लिस्ट बीकानेर माध्यमिक शिक्षा निदेशालय निकालेगा। डीपी जारौली ने बताया कि बीकानेर माध्यमिक शिक्षा निदेशालय पात्र परीक्षार्थियों के एकेडमिक इनडेक्स से 10 फीसदी मार्क्स जोड़ेगा। इसके बाद फाइनल मेरिट लिस्ट बनेगी। इसके बाद सरकार नियुक्तियां देगी। राज्य में 31000 शिक्षकों की भर्ती जल्द होगी। स्कूलों में शिक्षकों की कमी है

जारौली ने कहा कि सामान्य श्रेणी के परीक्षार्थियों के लिए 60 फीसदी व इससे ऊपर की पात्रता है। जारौली के अनुसार पात्रता के नियम हैं – 
सामान्य / अनारक्षित – 60 अंक (टीएसपी व नॉन टीएसपी)
अनुसूचित जनजाति (ST) – 55 (नॉन टीएसपी), 36 (टीएसपी)
अनुसूचित जाति (SC), ओबीसी, एमबीसी व आर्थिक कमजोर वर्ग – 55 अंक (नॉन टीएसपी व टीएसपी)
समस्त श्रेणी की विधवा और परित्यक्ता महिलाएं एवं भूतपूर्व सैनिक – 50 अंक (टीएसपी व नॉन टीएसपी)
दिव्यांग – 40 अंक (टीएसपी व नॉन टीएसपी)
सहरिया जनजाति – 36 अंक (टीएसपी व नॉन टीएसपी)

राजस्थान बोर्ड ने अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) 2021 के परीक्षा परिणाम मंगलवार को जारी कर दिए गए। अजमेर स्थित गोखले मार्ग रीट कार्यालय मुख्यालय पर बोर्ड के  अध्यक्ष एवं रीट परीक्षा के मुख्य समन्वयक डॉ. डीपी जारोली ने मीडिया के समक्ष परिणामों की घोषणा की। रीट परीक्षा लेवल – 1 व लेवल – 2  के अलग अलग वर्गों से परिणाम घोषित किए गए। लेवल -1 में अजमेर के अजय वैष्णव वैरागी ने तथा गोविंद सोनी उदयपुर ने सर्वश्रेष्ठ अंक हासिल किए। उन्होंने 150 में से 148 अंक अर्जित किए। लेवल – 2 कीरत सिंह, सुरभि पारीक, नम्बिाराम ने भी सबसे ज्यादा अंक हासिल करते हुए 150 में से 146 अंक हासिल किए। 
   
जारोली ने बताया कि सामान्य वर्ग में 60 से अधिक अंक हासिल करने वाले 47079 अभ्यर्थी रहे जो लेवल 2 से संबद्ध है। उन्होंने सफल अभ्यर्थियों को बधाई देते हुए कहा कि अब अकेडेमिक इंडेक्स के बाद मेरिट जारी की जाएगी। उन्होंने कहा कि यह शक्षिा जगत के लिए प्रसन्नता का विषय है कि बोर्ड ने इतनी बड़ी परीक्षा को सफलतापूर्वक आयोजित कर अल्प समय में ही परिणाम जारी कर दिया। उन्होंने असफल अभ्यर्थियों को भी हौसला बनाए रखने तथा अगले प्रयास के लिए प्रेरणा दी। इस मौके पर बोर्ड के सचिव अरविंद कुमार सेंगवा भी मौजूद थे।

रीट परीक्षा का आयोजन 26 सितंबर को हुआ था। इसके लिए राज्य के सभी 33 जिलों में कुल 3,993 परीक्षा केन्द्र बनाए गए थे। दो स्तरों में आयोजित इस परीक्षा के लिये 16.51 लाख उम्मीदवारों ने नामांकन किया था।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रीट परीक्षा में सफल हुए सभी अभ्यर्थियों को बधाई दी है। गहलोत ने ट्वीट किया, ”सफल अभ्यर्थियों को हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं। जो सफल नहीं हो सके हैं वे निराश न हों। आगे आने वाली परीक्षाओं की तैयारी करें। सिर्फ एक परीक्षा जीवन का रास्ता तय नहीं कर सकती है इसलिए मेहनत करते रहें।”

संबंधित खबरें

Related Articles

Back to top button